WhatsApp Channel Link

Deoria News: देवरिया के इन लड़कियों को सरकार के द्वारा दिया गया लैपटॉप

बेटे-बेटियां एक समान है, बल्कि कई मामलों में बेटियां बेटों से आगे हैं। प्रदेश सरकार ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत बेटियों के सशक्तिकरण पर विशेष ध्यान दिया है। सरकार की नीतियों के चलते बेटियां खुद को सशक्त महसूस कर रही हैं।
उक्त बाते ग्राम्य विकास राज्य मंत्री विजय लक्ष्मी गौतम ने टाउनहॉल ऑडिटोरियम में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड काल में अपने अभिभावकों को खो चुके बच्चों के हित में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना क्रियान्वित किया। उन्होंने कहा कि आज मिल रहे लैपटॉप का प्रयोग वे अपने सपनों को साकार करने में करें।


सदर सांसद डॉ रमापति राम त्रिपाठी ने कहा कि लैपटॉप वितरण मुख्यमंत्री की दूरदर्शिता एवं संवेदनात्मक सोच का परिणाम है। लैपटॉप का प्रयोग मनोरंजन नहीं बल्कि ज्ञानवर्धन के लिए होना चाहिए। लैपटॉप के माध्यम से स्वयं को शिक्षित करें और जीवन में श्रेष्ठ बने। सलेमपुर रविंदर कुशवाहा ने कोविड के दौरान अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि वे स्वयं को अकेला महसूस न करें सरकार उनके साथ खड़ी है। सदर विधायक शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि मुश्किल हालतों में ही तप कर प्रतिभा निखरती है। मुश्किल परिस्थितियों से कभी घबराना नहीं चाहिए। बरहज विधायक दीपक मिश्रा शाका ने कहा कि दृढ़ इच्छाशक्ति के बल पर बड़े से बड़ा मुकाम हासिल किया जा सकता है। विधायक भाटपाररानी सभा कुंवर कुशवाहा ने बच्चों का ध्यान रखने के लिए योगी जी की सराहना की।

  जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत 120 लाभार्थियों को लैपटॉप वितरण, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत बहुविभागीय कार्यक्रम 10वीं 12वीं की 10 मेधावी छात्राओं को पुरस्कार स्वरूप चेक वितरण, 20 महिला ग्राम प्रधानों को किशोरी क्लब हेतु स्पोर्ट्स किट का वितरण किया गया। इस दौरान बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का शपथ भी लिया गया।
      इस दौरान बांसगांव सांसद प्रतिनिधि अंगद तिवारी, एमएलसी प्रतिनिधि राजू मणि, सीडीओ रवींद्र कुमार, जिला प्रोबेशन अधिकारी अनिल सोनकर सहित विभिन्न अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि गण मौजूद थे।
AD4A