WhatsApp Channel Link

Deoria News: पल्स पोलियो अभियान की सफलता के लिए निकाली गई जन जागरूकता रैली

जिले में सघन पल्स पोलियो अभियान एक बार फिर 28 मई से शुरू होगा। छह दिवसीय इस अभियान में साढ़े 4.93 लाख से अधिक नौनिहालों को ‘दो बूंद जिंदगी की’ दी जायेगी। इस अभियान को सफल बनाने के लिए शुक्रवार को सीएमओ कार्यालय परिसर से मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार ने पल्स पोलियो जन जागरूकता रैली को झंडी दिखाकर रवाना किया। रैली बस स्टैंड, कचहरी चौराहा होते हुए वापस सीएमओ कार्यालय पहुंची।


इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार ने कहा कि रविवार (28 मई) को पोलियो बूथ दिवस का आयोजन होगा। उन्होंने कहा कि भारत पोलियो मुक्त हो चुका है, लेकिन कुछ देशों में पोलियो अब भी है। लिहाजा इसके फिर से लौटने की आशंका बनी रहती है। इसी वजह से सघन पल्स पोलियो अभियान चलाया जा रहा है ताकि किसी भी हालत में इसे अपने देश में पुनः न लौटने दिया जाए।


मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ राजेश झा ने कहा कि जनपद के 1759 बूथों पर पोलियो की खुराक दी जायेगी। 114 ट्रांजिट बूथ तथा 45 मोबाइल बूथ भी बनाये जाएंगे। बूथ तक न पहुंच पाने वाले बच्चों के लिए 29 मई से घर-घर जाकर पोलियो की खुराक पिलाने का कार्य किया जाएगा। इसके बाद भी अगर कोई बच्चा दवा पीने से वंचित रह गया होगा तो उसे भी निश्चित दिवस पर पोलियो की खुराक दी जा सकेगी।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी (डीआईओ) डॉ सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि जो बच्चे बूथ दिवस पर दवा पीने से छूट जाएंगे, उन्हें स्वास्थ्य विभाग की टीमें 29 से 3 जून (सोमवार से शुक्रवार) तक घर-घर जाकर दवा पिलाने का काम करेगी। उन्होंने बताया कि 944 टीमें अभियान में लगायी जायेंगी। उन्होंने बताया कि अभियान की सफलता के लिए रोजाना शाम को ब्लाक स्तर के नोडल अधिकारियों द्वारा फीडबैक लिया जाएगा और समीक्षा होगी।
रैली में एसीएमओ डा0 सुरेन्द्र चौधरी, डिप्टी सीएमओ डॉ. बीपी सिंह, डॉ. संजय चंद, अर्बन नोडल अधिकारी डॉ. आरपी यादव, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. अंकुर सांगवाग, यूनिसेफ़ के डीएमसी अशरफ, जिला मातृ स्वास्थ्य परामर्शदाता विश्वनाथ मल्ल सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

AD

 

AD4A