WhatsApp Channel Link

योगी के प्रमुख अंग हिंदू युवा वाहिनी कार्यकारिणी समिति हुआ भांग अब क्या होगा

आर एस एस के बाद कोई हिंदू संगठन चर्चा में रहा है वह है हिंदू युवा वाहिनी हिंदू युवा वाहिनी संगठन वर्तमान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा चलाया जाता रहा है लेकिन 2014 विधानसभा चुनाव के बाद हिंदू युवा वाहिनी में काफी बदलाव हुआ और इस चुनाव में हिंदू युवा वाहिनी काफी मदद किया उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल में हिंदू युवा वाहिनी काफी चर्चा में रहा है इसके कार्यकारिणी समिति भंग होने के बाद लोगों के मन में कई नए सवाल उत्पन्न हो रहे हैं क्या वे संगठन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संचालन नहीं होगा या अन्य कारण है

हिंदू युवा वाहिनी संगठन के प्रदेश प्रभारी राघवेंद्र प्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया है कि जल्द ही नई इकाई का पुनर्गठन किया जाएगा इसका मुख्य कारण यह है कि 2024 चुनाव में हिंदू युवा वाहिनी संगठन को और भी मजबूत करना प्रदेश के प्रभारी राघवेंद्र प्रताप सिंह ने कार्यकारिणी समिति को भंग करने का कारण बताएं है कि लंबे समय से संगठन में कोई बदलाव नहीं हुई थी अब संगठन में बदलाव होने से संगठन में नई ऊर्जा मिलेगी और तेजी से संगठन का विस्तार होगा हिंदू युवा वाहिनी के संस्थापक सीएम योगी आदित्यनाथ संगठन 2002 में योगी आदित्यनाथ के सांसद रहते हुए बनायए थे जिसके बाद यह संगठन लगातार आगे बढ़ता गया वर्ष में 2022 विधानसभा चुनाव में हिंदू युवा वाहिनी संगठन के द्वारा भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को जिताने के लिए अथक प्रयास किया गया और संगठन के कार्यकर्ता सफल भी हुए यह संगठन समाज हित में भी कार्य किया है मुख्यमंत्री बनने के बाद पिछले 5 वर्षों में राजनीतिक से हटकर वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने तमाम कार्य किए हैं जैसे कि करोना के रोकथाम के लिए जागरूक , इंसेफेलाइटिस उन्‍मूलन पर फोकस किया इसके साथ साथ स्थानीय प्रशासन से तालमेल स्थापित कर कल्याणकारी योजनाओं के बारे में लोगों तक जानकारी पहुंचाना अन्य कार्य संगठन के द्वारा किया गया

AD4A