WhatsApp Channel Link

देवरिया 15 साल पर घर लौट आने वाला युवक निकला फ्रॉड ग्रामीणों ने लगाए आरोप | युवक देवरिया के इस गांव में 6 महीने रहकर 5 दिन पहले हुआ है फरार deoria news

देवरिया जनपद के मीडिया जगत में ग्रामीण क्षेत्र  तेजी से खबर वायरल हो रहे जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि देवरिया जनपद के भागलपुर विकासखंड के मुरासो गांव में एक अज्ञात युवक पहुंचा है जो अपने आपको उसी गांव का लड़का बता रहा है जिसके बाद ग्रामीणों में काफी खुशी है दूसरी तरफ मीडिया की सुर्खियां बन चुका है लड़का का दावा है कि सांप 15 साल पहले काट लिया था जिसके बाद उसके घर वालों ने उसे केला की डहनी पर उससे सरयू नदी में प्रवाहित कर दिए जिसके बाद बिहार के 1 जिले में आदिवासी नदी से बाहर निकाल कर उसे जिंदा किए जिसके बाद उसे अपने साथ लेकर सांप का खेल दिखाने लेकर जाता था युवक का दावा है कि वह कुछ दिन बाद अमृतसर चला गया जहां आदिवासियों के संग रह कर उनके कार्यों को करता था युवक ने कहा कि आदिवासी लोग हमें अपना बेटा मानते थे लेकिन मैं जिसे अपने माता-पिता मानता था वह अपने लड़की से हमारी शादी करवाना चाहते थे मैं उस लड़की को बहन मानता था इसी वजह से हम वहां से भाग कर अपने गांव चले आए ट्रक के माध्यम से मैं बलिया पहुंचा क्योंकि मुझे बलिया और मुरासो याद था । वहीं युवक जिस घर में है उस घर के लोगों का भी कहना है कि हमारा बेटा कुछ दिन पहले मर गया था जिसे हम लोग नदी में परवाहा कर दिए थे लेकिन उसके जीवित होने से हम लोगों में काफी उत्साहित है लोग उसे पहचानने का दावा करते हैं साथी युवक अपने हाथ पर बृजेश नाम का मेहंदी भी लगाया है गांव के लोगों का नाम भी बता रहा है जिससे गांव के लोगों को पूरा विश्वास हो गया है कि वही लड़का है जो कुछ दिन पहले सांप के काटने से मर गया था लेकिन एक ऐसा ही वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें सेम वही लड़का देखा जा रहा है वह भी किसी अन्य जनपद में नहीं देवरिया जनपद के एक गांव का वीडियो है

जो विधानसभा रामपुर कारखाना में पड़ता है उस गांव में भी युवक सेम इसी तरह का बात कर रहा है युवक का कहना है कि हमें बेच दिया गया था 18 साल पहले और हम हरियाणा में रहते थे हमें गौशाला में रखा गया था हमारे साथ काफी मारपीट किया जाता था और उस गांव में भी युवक ने कुछ लोगों को पहचानने का दावा किया कुछ लोगों को नाम भी बताया और युवक अभी बता रहा है कि उसके साथ क्या-क्या हुआ कौन उसे ले जाकर हरियाणा में बेच दिया । जिसके बाद भटनी क्षेत्र के उस गांव के लोगों का कहना है कि युवक कुछ दिन पहले हमारे गांव में था अगर हम लोग भी अपने गांव का लड़का मानते थे लेकिन अब सोशल मीडिया पर और मीडिया की सुर्खियां बनने के बाद गांव के लोग दोबारा उस युवा को पहचान गए हैं वह गांव है भटनी क्षेत्र के पिपरा देवराज , युवक ने इस गांव में अपना नाम बृजेश बताया है जिसके बाद अब यह सवाल खड़ा होने लगा है कि कहीं युवक लोगों के साथ कोई धोखाधड़ी तो नहीं करने वाला है अलग-अलग जगह पर अलग-अलग नाम बताकर लोगों के घर में अपना जगह बना रहा है और रह रहा है लोगों को विश्वास भी हो जा रहा है उसके नाम बताने से कि गांव के सभी लोगों को पहचान रहा है तो वही लड़का होगा लेकिन बड़ा सवाल यह खड़ा हो रहा है कि एक लड़का एक चेहरा कैसे 2 जगहों पर अपना माता-पिता बता रहा है और उसकी अलग अलग कहानी है जैसे कि आप इस वीडियो में देख सकते हैं ग्रामीणों का क्या कहना है यह पिपरा देवराज के ग्रामीण है

आपने देखा कि किस तरह से पहली बार देवरिया जनपद के पिपरा देवराज ग्राम पंचायत में युवक लोगों से यह कह रहा है कि मैं इसी गांव का हूं और मेरे साथ दरिंदगी की गई है मुझे बंधक बनाया गया था बंधुआ मजदूर बनाया गया था अब आपको दूसरा वीडियो दिखाते हैं

AD

 

देवरिया जनपद के भागल पुर विकासखंड के मुरासो गांव में दावा कर रहा है कि मैं इसी गांव का बेटा हूं जो 15 साल पहले मुझे नदी में बहा दिया गया था अब दोनों वीडियो देखकर ही अनुमान लगा सकते हैं कि यह युवक फ्रॉड है जा जलसाजी साज है या दोनों वीडियो में दिख रहा युवक अलग-अलग है

AD4A