WhatsApp Channel Link

Bhart Nepal : गोरखपुर से काठमांडू के लिए जाएगा सरकारी बस किराया होगा बस इतना | Gorkhapur se Nepal Bus

हर वर्ष भारत से नेपाल में हजारों लोग घूमने जाते हैं गोरखपुर से नेपाल जाने वाले लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है क्योंकि उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग के द्वारा गोरखपुर से सीधे नेपाल के लिए बस जाएगी वह भी ऐसी जिस में सफर करना बिल्कुल भी आसान होगा नेपाल जाने के लिए भारत के लोगों को ट्रेन के माध्यम से जयनगर रक्सौल अन्य बॉर्डर पर जाना पड़ता था अब गोरखपुर से सीधे सरकारी बस के द्वारा सुनौली बॉर्डर होकर काठमांडू तक जाने में कोई दिक्कत नहीं होगी गोरखपुर क्षेत्रीय प्रबंधक पीके तिवारी ने कहा है कि गोरखपुर काठमांडू बस सेवा शुरू करने के लिए भारत और नेपाल सरकार के विदेश मंत्रालय से अनुमति मिल गई है ।

AD

 

खास बात यह है कि परिवहन निगम मुख्यालय से पहले ही परमिशन मिल चुका है वही परिवहन विभाग बस सेवा शुरू करने की प्रक्रिया में जुट गई है ।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गोरखपुर से काठमांडू के लिए अंतरराष्ट्रीय बस सेवा अगले सप्ताह शुरू होने की संभावना है इसके लिए भारत और नेपाल के विदेश मंत्रालय से अनुमति मिल चुकी है बसों का किराया से लेकर बस कहां कहां रुकेगी सब कुछ तय कर लिया गया है, अंतरराष्ट्रीय बस सेवा शुरू करने के लिए गोरखपुर के राप्ती नगर डिपो से एसी बस जनरथ बस को चयन किया गया है, बस गोरखपुर से शाम 4:00 से चलेगी और शाम 6:00 बजे के आसपास सोनौली पहुंचेगी यहां 15 मिनट के लिए स्टॉप रहेगा यहां से काठमांडू के लिए यात्रियों को 13 घंटा का समय लगेगा यहां से बस सीधे सुबह 5:00 बजे काठमांडू पहुंच जाएगी बस की रखरखाव और साफ-सफाई धुलाई का कार्य स्थानीय कार्यशाला में ही होगा परिवहन निगम और नेपाल ट्रांसपोर्ट के सहयोग से पिछले दिसंबर में ही गोरखपुर से काठमांडू एसी बस सेवा शुरू करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी थी लेकिन बीच में विधानसभा चुनाव और विदेश मंत्रालय की मंजूरी 10 महीने की देरी की वजह से बस सेवा शुरू करने में देरी हुई,

गोरखपुर से काठमांडू जाने के लिए कितना बस किराया How much is the bus fare from Gorakhpur to Kathmandu?

गोरखपुर से नेपाल की राजधानी काठमांडू में जाने के लिए आपको एसी बस के लिए ₹1005 देना होगा इतने रुपए में आप भारत से सीधा नेपाल की राजधानी काठमांडू में पहुंच जाएंगे जहां आप नेपाल के तमाम पर्यटन स्थल पर घूम सकते हैं जैसे कि पशुपतिनाथ मंदिर शंभू मंदिर चंद्र गिरी पर्वत बुद्ध मंदिर आदि पर्यटन स्थलों पर आप जाकर देख सकते हैं |

AD4A