WhatsApp Channel Link

Atiq Ahmed Murder: अतीक अहमद अशरफ को क्यों मारा हमलावरों ने कर दिया खुलासा

आपको बता दें कि गैंगस्टर अतीक अहमद अशरफ हत्याकांड में प्रयागराज पुलिस ने एफ आई आर दर्ज कर ली आरोपी लवलेश तिवारी और मोहित और अरुण मौर्या के खिलाफ एफ आई आर दर्ज हुई है हत्या की वजह सामने आ गई है एफ आई आर के मुताबिक पुलिस के पूछताछ में तीनों आरोपी ने बताया है कि उनका मकसद अतीक अहमद गैंग का सफाया करना था और इस वारदात के जरिए प्रदेश में नाम कमाना था इस हत्या कांड के अगले दिन यानी 16 अप्रैल को तीनों हमलावर के खिलाफ कई गंभीर धाराओं में एफ आई आर दर्ज की गई है तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 302 धारा 307 आर्म्स एक्ट की धारा 3 आर्म्स एक्ट की धारा 7आर्म्स एक्ट की धारा 25 आर्म्स एक्ट की धारा 27 और आपराधिक कानून संशोधन की धारा 7 के तहत f.i.r. दर्ज की गई है

एफ आई आर के मुताबिक अपराधियों से उनका अपना नाम पूछा गया तो उनमें से एक ने अपना नाम लवलेश तिवारी उम्र 22 साल जनपद वादा का बताया है और दूसरा ने अपना ना मोहित और सनी उम्र 23 साल जनपद हमीरपुर बताया है और वही तीसरे ने अपनाना अरुण कुमार मौर्या उम्र 18 साल जनपद कासगंज बताया है एफ आई आर के मुताबिक तीनों शूटर्स ने बताया की अतीक अशरफ को मारकर यूपी में पॉपुलर होना चाहते थे तीनों आरोपियों का कहना है कि हम लोग अतीक अशरफ गैंग की सफाया करना चाहते थे जिससे प्रदेश में हमारा नाम होता और हम लोग पुलिस के घेरे का अनुमान नहीं लगाए पाए और पुलिस की तेज करवाई के चलते पकड़े गए कई दिनों से मारने की फिराक में थे लेकिन सही समय और सही मौका नहीं मिला f.i.r. में यह भी सामने आया है कि शनिवार रात अतीक अशरफ पर हमले के दौरान एक शूटर लवलेश तिवारी को भी गोली लगी है हमलावरों के फायरिंग में लवलेश घायल हुआ है एफ आई आर के मुताबिक अपराधियों ने पुलिस को बताया कि अतीक और पुलिस की कस्टडी की सूचना जब हमें मिली तो उससे हम लोग मीडिया कर्मी बनकर स्थानीय मीडिया कर्मियों की भीड़ में रहकर इन दोनों को मारने की फिराक में थे लेकिन सही समय और मौका नहीं मिल पा रहा था आरोपियों ने आगे बताया कि आज जब मौका मिला तो हम लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया

F.i.r. कॉपी के मुताबिक पुलिस अतीक अहमद और अशरफ को लेकर करीब 10:35 पर अस्पताल पहुंची थी हॉस्पिटल पर गाड़ी खड़ी की गई ड्राइवर महावीर सिंह और सत्येंद्र कुमार को गाड़ी के पास छोड़ दिया गया और शेष पुलिस बल के साथ अतीक अहमद और अशरफ एक ही साथ हथकड़ी लगाकर गाड़ी से उतरकर सुरक्षा घेरे में हॉस्पिटल की तरफ चलने लगे इस बीच मीडिया कर्मी के बीच में आकर शूटर अतीक अहमद और अशरफ की बाइट लेने के लिए अपने अपने कैमरे माइक आईडी लेकर सुरक्षा घेरे को तोड़ते हुए अतीक असरफ के करीब पहुंच गए एफ आई आर के मुताबिक गोलीबारी के बीच और पुलिसकर्मियों ने तत्काल कार्रवाई करते हुए मौके पर तीनों हमलावर को लोड हथियारों के साथ पकड़ लिया और हमलावरों को भागने का मौका नहीं मिला

AD

 

AD4A