WhatsApp Channel Link

बिहार में आसमानी बिजली का कहर, 9 लोगों की मौत, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया मुआवजे का ऐलान

बिहार में आसमानी बिजली गिरने की घटनाओं ने एक बार फिर से कहर बरपाया है। शनिवार, 6 जुलाई 2024 को, राज्य के विभिन्न जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से 9 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। इन घटनाओं ने राज्य में हड़कंप मचा दिया है और प्रशासन तुरंत हरकत में आ गया है।

जिले और घटनाएँ:

आकाशीय बिजली गिरने की घटनाएँ राज्य के 6 जिलों में दर्ज की गई हैं। इनमें पटना, नालंदा, भोजपुर, सीवान, सारण और रोहतास शामिल हैं। इन जिलों में कई स्थानों पर बिजली गिरने से 9 लोगों की जान चली गई। प्रशासन ने बताया कि इन घटनाओं में कई लोग घायल भी हुए हैं, जिन्हें नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

AD

 

मुख्यमंत्री का मुआवजा ऐलान:

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इन घटनाओं पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की और प्रत्येक मृतक के परिवार को 4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे प्रभावित परिवारों को जल्द से जल्द सहायता प्रदान करें और घायलों के उचित इलाज की व्यवस्था करें।

मौसम विभाग का अलर्ट:

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बिहार में भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने की संभावना को देखते हुए अलर्ट जारी किया है। IMD ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में अगले 24 घंटों में भारी बारिश और बिजली गिरने की चेतावनी दी है। लोगों को सलाह दी गई है कि वे सावधान रहें और बिना जरूरी काम के घर से बाहर न निकलें।

सुरक्षा के उपाय:

आकाशीय बिजली से बचाव के लिए विशेषज्ञों ने कुछ उपाय सुझाए हैं। जैसे कि बारिश के दौरान खुले स्थानों पर न रहें, ऊंचे पेड़ या खंभों के नीचे शरण न लें और धातु के किसी भी वस्तु का उपयोग न करें। लोगों को सलाह दी गई है कि वे अपने मोबाइल फोन का उपयोग भी कम से कम करें और बिजली के उपकरणों से दूर रहें।

प्रभावित परिवारों की मदद:

स्थानीय प्रशासन और राहत दल प्रभावित क्षेत्रों में पहुंचकर मदद कर रहे हैं। मृतकों के परिवारों को आर्थिक सहायता पहुंचाने के साथ-साथ घायलों के इलाज की व्यवस्था की जा रही है। राहत दलों ने प्रभावित क्षेत्रों में जरूरी सामग्री और चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई है।

सरकार की अपील:

राज्य सरकार ने लोगों से अपील की है कि वे मौसम विभाग की चेतावनियों को गंभीरता से लें और सावधानी बरतें। प्रशासन ने जनता से अनुरोध किया है कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें और किसी भी आपात स्थिति में प्रशासन से संपर्क करें।

जनता की प्रतिक्रिया:

बिहार में आकाशीय बिजली गिरने की घटनाओं ने लोगों में भय और चिंता का माहौल बना दिया है। लोग प्रशासन और सरकार से अधिक सुरक्षा उपायों की मांग कर रहे हैं। वहीं, विशेषज्ञों का कहना है कि आकाशीय बिजली से बचाव के लिए जागरूकता और सावधानी सबसे महत्वपूर्ण है।

आखिरी शब्द:

बिहार में आकाशीय बिजली गिरने की घटनाओं ने एक बार फिर से यह साबित कर दिया है कि प्राकृतिक आपदाओं के सामने मानव जीवन कितना असहाय हो सकता है। ऐसे में सरकार और प्रशासन की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है कि वे लोगों की सुरक्षा के लिए हर संभव कदम उठाएं और प्रभावित परिवारों को यथासंभव सहायता प्रदान करें। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा मुआवजे की घोषणा एक सराहनीय कदम है, लेकिन आगे भी ऐसी घटनाओं से बचाव के लिए ठोस उपाय किए जाने की आवश्यकता है।

AD4A