WhatsApp Channel Link

Deoria News: देवरिया को मिला प्रशासनिक संबल: 144 नए लेखपालों की नियुक्ति

आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा आयोग द्वारा चयनित नवनियुक्त लेखपालों को नियुक्ति पत्र लखनऊ में वितरित किया। उक्त कार्यक्रम का सजीव प्रसारण विकास भवन स्थित गांधी सभागार में किया गया, जिसे ग्राम्य विकास राज्य मंत्री विजयलक्ष्मी गौतम, विधायक भाटपाररानी सभाकुंवर कुशवाहा, जिलाधिकारी अखंड प्रताप सिंह की उपस्थिति में देखा गया। सजीव प्रसारण के पश्चात जनपद में नवनियुक्त 144 लेखपालों को नियुक्ति पत्र दिया गया। नियुक्ति पत्र पाकर नवनियुक्त लेखपालों के चेहरे खिल उठे।


इस अवसर पर ग्राम विकास राज्य मंत्री विजयलक्ष्मी गौतम ने कहा कि निष्पक्ष एवं पारदर्शी चयन प्रक्रिया के माध्यम से योग्य अभ्यर्थियों का चयन किया गया है। लेखपाल प्रशासन की महत्वपूर्ण कड़ी होते हैं। उन्होंने सभी नव चयनित लेखपालों को बधाई एवं शुभकामना देते हुए अच्छे समाज के निर्माण में सकारात्मक भूमिका के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करने के लिए प्रेरित किया। योगी सरकार में योग्यता को सम्मान मिल रहा है। विधायक भाटपाररानी सभाकुंवर ने कहा की प्रदेश सरकार ईमानदारी के साथ पारदर्शी नियुक्ति कर रही है। चयन का एकमात्र पैमाना योग्यता है। 2017 से पहले की भर्तियों में भेदभाव किया जाता था।


जिलाधिकारी अखंड प्रताप सिंह ने नव चयनित लेखपालों को बधाई देते हुए कहा कि आज जनपद को कुल 144 लेखपाल प्राप्त हुए हैं। इस नियुक्ति के पश्चात जनपद में स्वीकृत कुल 569 पद के सापेक्ष 501 लेखपाल कार्यरत हो गए हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि विकास के सभी पायदान राजस्व विभाग से जुड़े हैं। लेखपाल अपने हलके में सरकारी भूमि का कस्टोडियन होता है, इसलिए उसका कार्य दायित्व अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय ज्ञान का युग है। नियमों की जानकारी प्राप्त कर शासन के मंशानुरूप जनहित में कार्य करें और ग्रामीण क्षेत्रों में राजस्व विभाग से संबंधित विवादों का स्थाई समाधान कर अपने हलके को विवाद मुक्त रखें। मुख्य राजस्व अधिकारी जेआर चौधरी ने सभी नव चयनित लेखपालों के सफल एवं सुखद कार्यकाल की शुभकामना दी। साथ ही उन्होंने कहा कि नव चयनित लेखपाल समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के हित में कार्य कर संविधान की उद्देशिका को चरितार्थ करें।

AD

 

नव चयनित लेखपाल संजय यादव एवं पारुल कुशवाहा ने निष्पक्ष एवं पारदर्शी चयन के लिए प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया। पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन एवं सरस्वती वंदना के साथ हुई।
इस अवसर पर एसडीएम सदर विपिन द्विवेदी, एसडीएम रुद्रपुर रत्नेश तिवारी, एसडीएम बरहज अंगद यादव, तहसीलदार सदर केके मिश्रा सहित राजस्व विभाग से जुड़े विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

AD4A