WhatsApp Channel Link

देवरिया |मेडिकल कॉलेज में ओपीडी का होगा नया भवन, मरीजों को मिलेगी सुविधा

देवरिया। महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज में ओपीडी के लिए जल्द ही नया भवन मिल जाएगा। इससे मरीजों को काफी सहूलियत होगी। विभागवार चिकित्सकों को कमरे आवंटित होंगे। इसमें मरीजों की कई जांच के लिए सुविधा भी होगी। वहीं बैठने के लिए पर्याप्त इंतजाम होगा। ओपीडी में पर्याप्त जगह होने से मरीजों को धक्का मुक्की से राहत मिलेगी। साथ ही उद्घोषक से मरीजों का नाम पुकारा जाएगा।
मेडिकल कॉलेज का स्वरूप जल्द बदला नजर आएगा। मरीजों को बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। कॉलेज से संबद्ध बाबू मोहन सिंह जिला अस्पताल की ओपीडी में भीड़ के चलते मरीजों को परेशानी होती है, वहीं पर्याप्त कमरा न होने से एक ही कमरे में कई डॉक्टर मरीजों का इलाज करते हैं। साथ ही परीक्षण व माइनर ओटी न होने से भी दिक्कत होती है। इन समस्याओं को देखते हुए मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने नए भवन में शिफ्ट करने की कवायद तेज कर दी गई है। पांच मंजिला भवन के भू तल पर ओपीडी स्थापित की जाएगी, जबकि प्रथम तल पर विभागवार कार्यालय तथा उससे ऊपर के तल पर मरीजों को भर्ती करने के लिए वार्ड होंगे, लेकिन भू तल को छोड़कर अन्य फ्लोर पर कार्य पूरा नहीं हो सका है।
भवन गेट के समीप भू तल पर मरीजों की आसानी के लिए रिसेप्शन होगा। प्रवेश करते ही चार रजिस्ट्रेशन काउंटर होंगे, जिसमें महिला, पुरुष, दिव्यांग व सिटीजन तथा वीआईपी के लिए एक-एक काउंटर होगा। वहीं विभिन्न ब्लाक में रोग के लिए विभागवार चिकित्सकों के कमरे होंगे। यहां मरीजों के लिए बैठने की व्यवस्था रहेगी। एक ब्लाक में चेस्ट रोग, मानसिक रोग, दंत तथा मेडिसिन विभाग के चिकित्सकों के लिए कमरे होंगे। ईसीजी, अल्ट्रा साउंड जांच की भी सुविधा होगी। दूसरे ब्लाक में चर्म रोग, नेत्र, सर्जरी व आर्थों विभाग की ओपीडी होगी। अलग-अलग कमरों में बैठकर चिकित्सक मरीजों का इलाज करेंगे। यही पर आंखों की जांच की भी व्यवस्था होगी। एक अन्य ब्लाक में नाक, कान, गला विभाग होगा, जहां चिकित्सकों के कमरों के अलावा आडियोमेट्री जांच की भी व्यवस्था होगी। इसी ब्लाक में एक्स रे व मरीजों का प्लास्टर भी किया जाएगा।
प्राचार्य सहित अन्य अधिकारियों ने किया निरीक्षण
देवरिया। मेडिकल कॉलेज के नए भवन में ओपीडी शिफ्ट करने को लेकर प्राचार्य डॉ. राजेश कुमार बरनवाल ने निरीक्षण किया। वह बुधवार को सीएमएस डॉ. एएम वर्मा, डॉ. आरके श्रीवास्तव, डॉ. एचके मिश्रा, डॉ. अजीत पाल के साथ नए भवन में पहुंचे। उन्होंने सभी ब्लाकों को देखा और विभागवार चिकित्सकों को कमरा आवंटित करने को लेकर विचार-विमर्श किया और कमियों को शीघ्र ठीक करने का निर्देश दिया। साथ ही कमरों पर विभाग का नाम भी चस्पा किया गया। इस दौरान ईएनटी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. दयाशंकर सिंह, सीनियर रेजिडेंट डॉ. संतोष कुमार, सर्जरी के डॉ. राकेश कुमार, आशीष जायसवाल, सीनियर रेजिडेंट डॉ. सुचिन आदि भी मौजूद रहे।

AD4A