WhatsApp Channel Link

बैकुंठपुर में मटका उत्सव का किया गया आयोजन युवाओं ने फोड़ा मटका

भगवान श्री कृष्ण के जन्म उपरांत मटका फोड़ने की परंपरा पूर्वजों से चली आ रही है जो युवाओं को काफी उत्साहित करती है भगवान श्री कृष्ण के जन्म के बाद वह माखन चुरा कर खाते थे और मटकी को फोड़ देते थे ।

भगवान श्री कृष्ण के सिद्धांतों को आज भी भक्त अपनाते हैं कृष्ण जन्माष्टमी के बाद मटका फोड़ने का कार्यक्रम रखा जाता है जो बैकुंठपुर में भी किया गया बैकुंठपुर में मटका फोड़ने के लिए माधोपुर महूई छठिवा गांव के युवा पहुंचे दोपहर 12:00 बजे से दो महाले ऊपर टंगा मटकी को फोड़ने का प्रयास करने लगे जिसमें बैकुंठपुर माधोपुर महुई के युवाओं ने काफी प्रयास के बाद भी मटकी को नहीं फोड़ पाए छठिवा के टीम ने मटकी को फोड़ा रोमांच भरा रहा जनता विद्यालय के ठीक सामने कार्यक्रम का आयोजन किया गया था कार्यक्रम की शुरुआत ग्राम प्रधान राज कुमार के द्वारा फीता काटकर किया गया कार्यक्रम का आयोजन रविंद्र गुप्ता ग्राम प्रधान राजकुमार सुग्रीम कुशवाहा छोटे गुप्ता आदि बैकुंठपुर ग्राम पंचायत युवाओं के द्वारा आयोजन किया गया था

AD4A