WhatsApp Channel Link

दुनिया में एक ऐसा देश जहां मुसलमान है लेकिन मस्जिद नहीं है

दुनिया में अनेकों धर्म है जिनकी अलग-अलग परंपरा संस्कृति है लेकिन आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताने वाले हैं जो छोटा सा देश है जहां मुस्लिम रहते हैं लेकिन वहां पर कोई मस्जिद नहीं है क्योंकि वहां की सरकार मस्जिद को मान्यता नहीं देती है लेकिन मुस्लिम समुदाय के लोग लंबे समय से मस्जिद बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं लेकिन सरकार आखिर क्यों इन्हें मस्जिद नहीं बनाने देती है,

मैं बात कर रहा हूं भारत के पड़ोसी देश भूटान की जहां हिंदू मंदिर है बुध मंदिर है लेकिन मस्जिद नहीं है आखिर क्यों मस्जिद नहीं है इसके बारे में आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पता चल जाएगा,

भूटान (bhutan ) कभी भारत का हिस्सा हुआ करता था लेकिन बटवारा हुआ और भूटान का राजा अपना अलग देश ले लिया लेकिन छोटा और खूबसूरत भूटान आखिर क्यों मठ मंदिर बौद्ध मंदिर को मान्यता देता है और मस्जिद को नहीं यहां 7.5 लाख के आसपास आबादी बौद्ध धर्म का है भूटान की 84 फ़ीसदी लोग बौद्ध धर्म को मानने वाले हैं और भूटान में दूसरे नंबर पर हिंदू हैं जो भूटान के कुल आबादी के 11 फ़ीसदी हैं हिंदुओं की पूजा पाठ के लिए खुद कुछ दिन पहले भूटान के राजा ने राजधानी थिफू में काफी शानदार और खूबसूरत मंदिर बनवाया है अब बात करें मुस्लिम आबादी की तो भूटान में मुस्लिम आबादी मात्र एक परसेंट है यह मुस्लिम आबादी लंबे समय से भूटान के राजा से यह मांग कर रहे हैं कि उनके लिए भी एक मस्जिद बनाने की अनुमति दिया जाए लेकिन भूटान के प्रशासन इसके बारे में ना कुछ बोलती है और ना ही भविष्य में मस्जिद बनाना चाहती है हालांकि खास बात यह है कि भूटान में चर्च भी नहीं है इन दोनों धर्म के लोगों के लिए 2 कमरों का प्रार्थना महल बनाया गया है जहां यह जाकर प्रार्थना कर सकते हैं हालांकि भूटान में होटल के रूम में भी आप नमाज पढ़ सकते हैं भूटान में प्रतिवर्ष हजारों की संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं क्योंकि छोटा होने के बावजूद भी भूटान काफी खूबसूरत है प्राकृत की गोद में बसा यह देश 7 वी सदी देश तक भारत के कूचबिहार राजवंश के अधीन था इसके बाद बौद्ध धर्म में तब्दील हो गया भूटान की पूरी जनसंख्या की बात करें तो 2021 रिपोर्ट के अनुसार भूटान में 777,486 लोग हैं

AD

 

AD4A