WhatsApp Channel Link

भारत की 10 सबसे खतरनाक सड़कें जहां आए दिन हो जाते हैं कारनामा Indians 10 most dangerous roads where adventures happen every day

आज हम आपको भारत के 10 ऐसे खतरनाक रास्तों के बारे में बताने वाले हैं जिस पर ड्राइव करना किसी आम इंसान के लिए बस की बात नहीं है सड़के इतनी खतरनाक है कि यहां पर जान जने की खतरा हमेशा बनी रहती है इनमें से कुछ सड़कें तो ऐसे हैं जहां पर जाने के लिए सरकार से परमिशन लेने पड़ते हैं कुछ ऐसे हैं जिन्हें खतरनाक होने के वजह से साल में कुछ महीनों के लिए बंद भी रखा जाता है तो इन पर गाड़ी चलने मे अच्छे अच्छे ड्राइवरों के पसीने छूट जाते हैं तो चलिए जानते हैं कौन कौन सी वह है भारत की 10 सबसे खतरनाक सड़कें

नेशनल highway NH-22

हिमाचल प्रदेश नेशनल हाईवे तिवेत रोड के नाम से भी जाना जाता है यह रास्ता अंबाला से शुरू होकर हरियाणा और हिमाचल प्रदेश से होते हुए गुजरता है और आपको बता दें इस रास्ता को नरक का रास्ता भी कहा जाता है क्योंकि यहां खड़ी पहाड़ियों को काटकर बनाए गए इस रोड की दूसरी तरफ गहरी खाई है जहां बहुत से लोगों की गिरने से मौतें हुई हैं यहां ड्राइवर का एक गलत कदम और गाड़ी सीधा खाई में दोस्तों यह रास्ता बेहद ही बदला है और इसके मोड़ कहीं-कहीं इतने सर्प है की गाड़ी चलाते वक्त टर्निंग का आगे की रास्ता ही नहीं दिखाई देता अगर आप इतने में ही घबरा गए तो आपको बता दूं कि ठंडी के वक्त ज्यादा बर्फ गिरने के कारण यहां गाड़ी चलाना और भी खतरनाक हो जाता है क्योंकि बर्फ जमने के कारण आगे का रास्ता दिखाई नहीं देता

गाटा लूप्स Gata लद्दाख

यह रोड ड्राइवर के लिए किसी बुरे सपने से कम नहीं है आपको बता दें इस जिगजैग रोड पर कई सारी सार्क टर्निंग है जिसकी वजह से ऊपर से देखने पर यारों और बिल्कुल किसी कुंडी मारकर बैठे हुए किसी सांप की तरह दिखाई देता है यहां पर बड़े-बड़े एक्सपीरियंस वाले ड्राइवर भी गाड़ी चलाने से डरते हैं आपको बता दें कि इस इस रोड पर अक्सर अक्सर दुर्घटनाएं होती रहती हैं जिसके कारण यहां काफी अंधविश्वास भी बढ़ रहा है यहां के लोग का कहना है की दुर्घटना में मरे ट्रक ड्राइवर आत्माएं आज भी यहां देखने को मिलती हैं खैर यह सब तो आप आए हैं पर यहां का बर्फीला मौसम इस रोड को और भी खतरनाक बना देता है जिसे लोग इस रोड को अवॉइड करते हैं

AD

 

खारदुंगला पास Khardungla Pass

भारत और चीन के बीच सिल्क रोड पर स्थित खारदुंग ला पास समुद्र तल से करीब 5602 मीटर की ऊंचाई पर है यह रास्ता पूरी तरह से फिसलन भरा है जिससे इस रोड पर ग्रिप बनाना बेहद मुश्किल हो जाता है इतना ही नहीं बल्कि इस रोड की टर्निंग शार्प और इतनी खतरनाक हैं कि आए दिन यहां दुर्घटना होती रहती हैं यहां इतनी बर्फ गिरती है कि इस रोड के दोनों तरफ बर्फ की मोटी दीवारें बन जाती है इसे देखकर अंदाजा लगा सकते हैं कि यह रोड इतनी स्लिपरी होगी शायद यही वजह है कि आम लोग इस रोड पर ड्राइव करना पसंद नहीं करते हैं यहां पर ड्राइव करना हर किसी के बस की बात नहीं है बस कुछ एक्सपीरियंस ड्राइवर ही यहां ड्राइव करने जाते हैं

कोल्ली हिल्स रोड Koli Hills Road Tamilnadu

तमिलनाडु के नमक्कल जिले में स्थित कोल्ली हिल्स रोड एक बेहद ही खतरनाक सड़क है जिसेके नाम से ही पता चलता है कोल्ली हिल्स जिसका मतलब होता है मौत का पहाड़ आपको बता दें कि यह सड़क अपने घुमावदार और तीखे मुड़ के लिए पूरे भारत में प्रसिद्ध है इस रास्ते पर करीब 70 हर्पिंग मोड़ है यानी ऐसे मोड़ जो एकदम सर्प हो ऐसे रास्तों पर ओवरटेक करना कई बार जानलेवा साबित हो सकता है इसलिए इस रोड पर कोई भी ओवरटेक नहीं करता इस रास्ते को ऊपर से देखने पर सांप की तरह दिखाई पड़ता है यह रास्ता पहाड़ी पर स्थित है जिसके कारण इसके दूसरे छोर पर गहरी खाई है जो इस रोड को और भी खतरनाक बना देता है

करचम चुटकुल Karcham Chitkul Himachal pardesh

यह रोड हिमाचल प्रदेश के किन्नौर डिस्ट्रिक्ट में स्थित है यह रास्ता एडवेंचर और सस्पेंस से भरा हुआ है पथरीली चट्टान पर बने इस भयानक रोड पर एक तरफ गहरी खाई है की तरफ बड़े पत्थर की चट्टाने है इस रास्ते पर कई सारे गड्ढे भी हैं जिसके कारण यहां पर गाड़ी चलाना बेहद कठिन हो जाता है इस रोड पर गाड़ी चलाना किसी नर्क से कम नहीं है आपको बता दें कि यह रोड 42 किलोमीटर लंबी है यह रास्ता सांगला वेरी से शुरू होता है और इस रोड के स्टार्टिंग के 19 किलोमीटर का रास्ता रोमांच से भरा हुआ है साथी यह रास्ता इतना पतला है कि एक बार में इस रास्ते पर से एक ही वाहन गुजर सकता है अगर आप रोमांस के शौकीन हैं तो एक बार यहां जाना तो बनता ही है

बमला पास Bum La Pass Arunachal Pradesh

अरुणाचल प्रदेश में स्थित या रास्ता इंडो चाइना बॉर्डर के पास से होकर गुजरता है और पहाड़ से गुजरता हुआ यह रास्ता समुंद्र तट से करीब 14000 फीट से भी ऊंचाई पर मौजूद है इसलिए इतनी ऊंचाई पर ऑक्सीजन की मात्रा काफी कम है जो इस रास्ते को और भी खतरनाक बना देता है इंडो चाइना बॉर्डर के पास होने पर इस रास्ते पर ड्राइव करने के लिए परमिशन लेना पड़ता है और यह परमिशन आपको तवांग डिस्ट्रिक्ट के डेप्युटी कमिश्नर के ऑफिस से आप ले सकते हैं और आपको बता दें कि इस इलाके में भारी बर्फबारी होती है और भारी बर्फबारी होने के कारण या रास्ता ज्यादातर बंदी रहता है मई से अक्टूबर के बीच यहां का मौसम काफी बढ़िया रहता है इसलिए मोटरसाइकिल राइड करने के शौकीन लोग अक्सर इस दौरान यहां ड्राइव करने यहां आते हैं

नाथू ला पास Nathula Pass सिक्किम

सिक्किम में स्थित यह रोड इंडो चाइना बॉर्डर के पास मौजूद है यह रास्ता समुंद्र तट से करीब 14000 फीट की ऊंचाई पर बनाया गया है पहाड़ी पर बनाए गए इस रास्ते पर कई खतरनाक और तीखे मोड़ हैं और ऐसे में यहां का बर्फफीला और तूफानी मौसम इस रास्ते को और भी खतरनाक बना देता है आपको बता दें कि यहां आए दिन तूफान आते रहते हैं और बर्फ बारी भी होती रहती है इसलिए यहां कई बार इस रास्ते को बंद कर दिया जाता है आपको बता दें कि इससे भी ज्यादा भयानक हैं यहां के लैंडस्लाइड यहां पर अक्सर भूस्खलन और हिमस्खलन होते रहते हैं अगर आप इस लैंडस्लाइड या हिमस्खलन में फस गए तो यहां से बचके निकलने का चांस नहीं के बराबर होता है रास्ते पर भी जाने के लिए स्पेशल परमिशन लेनी पड़ती है

जोजिला पास Zojila Pass हिमालय

के लिए रोड लद्दाख के कारगिल डिस्टिक में स्थित है इस रोड की समुद्र तल से ऊंचाई करीब साढ़े 11 हजार फिट है आपको बता दें कि इस रोड को नेशनल हाईवे के नाम से भी जाना जाता है गर्मियों में तो आप यहां गाड़ी आसानी से चला लेंगे पर ठंडी के मौसम में यहां का तापमान माइनस 45 डिग्री सेल्सियस तक चला जाता है और इतनी ऊंचाई पर होने के कारण यहां का ऑक्सीजन लेवल बहुत कम है जो इस सड़क को और भी खतरनाक बना देता है आपको बता दें इस रोड के एक तरफ पथरीली चट्टाने हैं तो दूसरी तरफ गहरी खाई ऐसे में अगर आप आमने सामने ट्रक जैसे दो बड़े वाहन आ जाए तो इन्हें क्रॉस करने काफी मुश्किल होती है हिमालय की घाटी में स्थिति रास्ता खतरनाक होने के साथ बेहद खूबसूरत भी है और ड्राइविंग के शौकीन लोग अक्सर यहां गर्मियों में ड्राइव करने आते हैं

रोहतांग पास Rohtang Pass

हिमाचल प्रदेश में स्थित यह रोड मनाली से करीब 45 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और यह बेहद खतरनाक है जैसे कि इसके नाम से ही पता चलता है रोहतांग इसका मतलब होता है मुर्दों का ढेर ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि बहुत से लोग रोड को क्रॉस करने के चक्कर में अपनी जान गवा बैठते हैं इसलिए भारी बर्फबारी होने के बाद इस रोड को साल के 5 महीने बंद कर दिया जाता है यहां इतनी बर्फ गिरती है कि रास्तों पर बर्फ की मोटी चादर जम जाती है और आपको बता दें कि इस एरिया में लैंडस्लाइड का भी खतरा रहता है और आए दिन यहां लैंडस्लाइड होते रहते हैं और यह इतनी भयानक होते हैं कि आप गलती से भी इस मे फसना नहीं जाएंगे वैसे खतरनाक होने के साथ साथ यह रास्ता बेहद खूबसूरत भी है

NH 66 महाराष्ट्र

अष्टम स्थितियां रोड सपनों के सड़क मुंबई मुंबई को गोवा से जोड़ती वैसे ही रास्ता देखने में बिल्कुल आम रास्ते की तरह ही लगता है और हम आपको बता दें कि इस रास्ते पर इतने तीखे मोड़ हैं कि आगे से आने वाले वाहनों का पता ही नहीं चलता और ऐसे में रास्ते पर डिवाइडर ना होने की वजह से यहां अक्सर हादसा होते रहते हैं

AD4A