WhatsApp Channel Link

Deoria News: भाटपार रानी में किसान की निर्मम हत्या: जंगली जानवरों से फसलों की रक्षा करते हुए जान गंवाई

देवरिया, 17 मई 2024 – भाटपार रानी थाना क्षेत्र के ग्राम दन उर में बुधवार की रात एक दर्दनाक घटना घटी। जंगली जानवरों से अपनी फसलों की रक्षा करने के लिए खेत में सोए 55 वर्षीय किसान राम आसरे यादव उर्फ कुकर की गला काटकर निर्मम हत्या कर दी गई। इस घटना ने पूरे गांव को हिला कर रख दिया है और पुलिस प्रशासन को चौकन्ना कर दिया है।

घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस थाना अध्यक्ष, सीओ और एएसपी मौके पर पहुंचे। उन्होंने घटनास्थल का निरीक्षण किया और मृतक के पुत्रों व परिजनों से पूछताछ की। प्रारंभिक जांच के बाद, पुलिस ने फॉरेंसिक टीम को बुलाया जिसने घटनास्थल से नमूने लिए और जांच के लिए भेजे। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है ताकि हत्या के पीछे के कारणों का पता लगाया जा सके। पुलिस ने मामले की गहनता से जांच शुरू कर दी है।

राम आसरे यादव ग्राम दन उर के निवासी थे और अपने खेत की रखवाली करने के लिए भटनी मार्ग पर गांव के बाहर सो रहे थे। रात के समय अज्ञात हत्यारों ने उन पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। उनके गला, कनपटी और शरीर के अन्य हिस्सों पर कई घाव पाए गए। इस निर्मम हत्या ने पूरे गांव को सदमे में डाल दिया है और लोग इस क्रूर घटना की निंदा कर रहे हैं।

AD

 

राम आसरे यादव गांव में लोगों की गाय-भैंस दुह कर अपनी जीविका चलाते थे। वह अपने घर का नया निर्माण भी करा रहे थे, लेकिन गांव के ही कुछ लोगों ने पुलिस से निर्माण कार्य रुकवा दिया था। इस घटना के दिन, जब राम आसरे देर तक घर नहीं लौटे, तो उनकी पत्नी गुनराजी देवी उन्हें जगाने खेत पहुंची। वहां का दृश्य देखकर वह स्तब्ध रह गईं और उन्होंने तुरंत गांववालों और पुलिस को सूचित किया।

पुलिस ने मृतक के परिवार और गांव के लोगों से पूछताछ की है ताकि हत्या के पीछे के कारणों का पता लगाया जा सके। प्रारंभिक जांच में यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हत्या के पीछे व्यक्तिगत दुश्मनी है या कोई अन्य कारण। पुलिस विभिन्न कोणों से मामले की जांच कर रही है और जल्द ही दोषियों को पकड़ने का दावा कर रही है। गांव के लोगों से भी अपील की गई है कि वे किसी भी संदिग्ध जानकारी को पुलिस के साथ साझा करें।

गांव में राम आसरे यादव की हत्या ने एक भय का माहौल पैदा कर दिया है। लोग अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं और प्रशासन से सुरक्षा बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। राम आसरे यादव अपने सरल स्वभाव और मिलनसार व्यक्तित्व के लिए जाने जाते थे। उनकी हत्या से गांव में एक बड़ी क्षति हुई है और लोगों में आक्रोश है। ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस को जल्द से जल्द हत्यारों को गिरफ्तार कर न्याय दिलाना चाहिए।

घटना ने क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं। प्रशासन को चाहिए कि वे ग्रामीण क्षेत्रों में सुरक्षा को मजबूत करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोका जा सके। राम आसरे यादव की हत्या ने जहां उनके परिवार को अपार दुख पहुंचाया है, वहीं पूरे गांव को भी एक बड़ी क्षति का सामना करना पड़ा है। लोगों को उम्मीद है कि पुलिस इस मामले में त्वरित और प्रभावी कार्रवाई करेगी और दोषियों को सख्त सजा दिलाएगी।

AD4A