WhatsApp Channel Link

Deoria News: आईटीआई परिसर में सम्पन्न हुई सहायक उपकरण वितरण कार्यक्रम 607 दिव्यांगजनो में 1122 सहायक उपकरण किये गये वितरित

जिला प्रशासन एवं एलिम्को के संयुक्त तत्वाधान में आज स्थानीय आईटीआई परिसर में दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण वितरण किये जाने का कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस कार्यक्रम में सदर लोकसभा के तहत आने वाले जनपद के सभी विकास खण्डों के चिन्हित 607 दिव्यांगजनो में 1122 विभिन्न सहयोगी उपकरण यथा- मोटर्राइज्ड ट्राइसाईकिल, व्हील चेयर, बैसाखी व अन्य उपकरण सदर सांसद डा रमापति राम त्रिपाठी, कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही सहित अन्य अतिथियों द्वारा वितरित किया गया।


आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कृषि मंत्री श्री शाही ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार समाज के सभी वर्गो के लिए कार्य किया है। दिव्यांजनो से लेकर बच्चों के टीकाकरण, स्वास्थ्य सुरक्षा, बेटी बचाओं-बेटी पढाओं सहित अनेक कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से सभी के जीवन स्तर में उत्थान की दिशा में कार्य की है। दिव्यांगजनों के पेंशन बढोत्तरी के साथ -साथ उन्हें हर सहयोगी उपकरण भी उपलब्ध कराने के लिए कार्य किया जा रहा है। उन्होंने इस अवसर पर दिव्यांजनो से अपील करते हुए कहा कि सहायक उपकरणों का वे उपयोग करेंगे।


सदर सांसद श्री त्रिपाठी ने कहा कि प्रयागराज के बाद प्रदेश का यह दूसरा जनपद है, जहां दिव्यांजनो के लिए सर्वाधिक सहायक उपकरणों की स्वीकृति मिली है। प्रधानमंत्री जी सबका साथ-सबका विकास तथा गरीबों के उत्थान के लिए कार्य कर रहे है। उन्होंने विकलांग शब्द को बदल कर दिव्यांग बनाया, जिससे दिव्यांगजनो का उत्साह व गौरव बढा तथा उनमें आत्मविश्वास भी जागृत हुई। उन्होंने कहा कि उपकरण का उपयोग केवल आने जाने के लिए नही करेंगे बल्कि विभिन्न व्यवसायों को अपनाकर आत्मनिर्भर बनने के लिए कार्य करेंगें। उनमें निर्भता आयेगी तो परिवार व समाज में भी उनका सम्मान बढेगा। उन्होंने यह भी कहा कि उपकरण का उपयोग कर यदि स्वालम्बी बनेगें तभी इस उपकरण की सार्थकता होगी।

AD

 


जिलाधिकारी अखण्ड प्रताप सिंह ने कहा कि यह उपकरण दिव्यांगजनों के जीवन में उमंग व उत्साह भरने वाले है। व्यवसाय अपनाने में इसका उपयोग करें। जितनी क्षमता है वह किसी से कम नही है। उस क्षमता का उपयोग आत्मनिर्भता के लिए करें। उन्होने कहा कि जिस उपकरण की जितनी आवश्यकता होगी, उसे शतप्रतिशत उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि जन्म से ही बधिर बच्चों में हियरिंग इम्प्लांट का भी अभियान चलाया जा रहा है। ऐसे बच्चों को चिन्हित किया गया है। 133 बच्चे अभी तक इसके लिए चिन्हित हुए हैं, जिसमें से 14 का टेस्ट गोरखपुर से कराया जा चुका है। उन्होंने इसे अभियान का रुप देने पर बल देते हुए कहा कि अभिभावकों को इसके लिए प्रेरित करें और एक पुनीत अभियान मानकर इसमें सहयोग करें। ऐसे बच्चों को चिन्हित कर उनका इम्प्लांट कराये जाने में अपनी भूमिका निभायें जिससे कि वे सामान्य जीवन जी सके। उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चो की जांच हेतु आवागमन की व्यवस्था जिला प्रशासन करायेगी।


रामपुर कारखाना विधायक सुरेन्द्र चौरसिया ने कहा कि दिव्यांगजनो को सक्षम व सशक्त बनाये जाने के लिए सरकार प्रयत्नशील है। उसी दिशा में आज यह वितरण का कार्यक्रम आयोजित हुआ है। इससे दिव्यांजनों के जीवन में काफी सुगमता होगी।
कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष पं0 गिरीश चन्द्र त्रिपाठी, भूपेन्द्र सिंह, नीरज शाही, राजू मणि, राजन यादव, सचितानंद राय ने अपने विचार रखे। संचालन जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्णकान्त राय द्वारा किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्वलन के साथ अतिथियों द्वारा किया गया। अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ प्रदान कर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों द्वारा किया गया।
एलिम्को कम्पनी के प्रतिनिधि पंकज द्विवेदी द्वारा बताया गया कि आज सहित सलेमपुर में 23 एवं रुद्रपुर में 24 जुलाई को आयोजित उपकरण वितरण के कार्यक्रम सहित कुल 1490 लाभार्थियों में लगभग 3 करोड का सहायक उपकरण वितरित किया जायेगा।
कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्जवलन के पश्चात आंगनवाडी कार्यकत्री वंदना द्वारा सरस्वती वंदना के माध्यम से की गयी। दिव्यांग लाल बाबू वर्मा द्वारा गीत गजल प्रस्तुत किया गया।

AD4A